उत्तर प्रदेश देवी अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना | UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022 Apply Now Fast

उत्तर प्रदेश देवी अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना 2022 ( UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022 ): नमस्कार दोस्तों , स्वागत हैं आज आपका अपना हिंदी ब्लॉग Pmallyojana.com में। आज मैं इस आर्टिकल के माध्यम से बात करूँगा UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022 के बारे में। ये भी पढ़े: बिहार छात्रावास अनुदान योजना 2022 | Bihar Chhatravas Anudan Yojana 2022 | बिहार मुफ्त छात्रावास योजना Apply Now Fast

उत्तर प्रदेश में गरीब परिवारों की लड़कियों को शिक्षित करने के लिए उत्तर प्रदेश देवी अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना शुरू की गई है। UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022 के जरिए लड़कियों को ग्रेजुएशन तक मुफ्त शिक्षा मुहैया कराई जाएगी। जिससे गरीब परिवार की लड़कियां भी स्नातक तक शिक्षा प्राप्त कर उज्ज्वल भविष्य की हकदार बन सकें। क्योंकि गरीब परिवारों की अधिकतर लड़कियां पैसे की कमी के कारण शिक्षा से वंचित हैं। लेकिन अब इस योजना के माध्यम से वह बिना पैसों की चिंता किए ग्रेजुएशन तक आसानी से पढ़ाई कर सकती हैं।

यूपी वासियों से अनुरोध है कि हमारे इस लेख को अवश्य पढ़ें। क्योंकि हमारा यह लेख आपके लिए काफी फायदेमंद साबित होगा, क्योंकि आज हम आपको इस लेख में UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022 की पूरी जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। ये भी पढ़े: यूपी राशन कार्ड ऑनलाइन आवेदन 2022 | UP Ration Card 2022 Apply Now Fast – एपीएल/बीपीएल राशन कार्ड फार्म

Table of Contents

UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022

बेटी बचाओ बेटी पढाओ‘ से प्रेरित होकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana की शुरुआत की है। इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार द्वारा स्नातक स्तर तक की बेटियों को मुफ्त शिक्षा प्रदान की जाएगी। इसके साथ ही उन्हें यूनिफॉर्म, स्कूल बैग, किताबें और कॉपी आदि चीजें भी मुफ्त दी जाएंगी। इस साल इस योजना के तहत 21 करोड़ 12 लाख रुपये का बजट रखा गया है. सरकार की ओर से इसी सत्र से लाभार्थी बालिकाओं की शिक्षा शुल्क अदा करने की व्यवस्था की जा रही है। ये भी पढ़े: प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना 2022 | Pradhan Mantri Solar Panel Yojana 2022 Apply Now Fast

इस योजना का संचालन और निगरानी यूपी उच्च शिक्षा विभाग द्वारा किया जा रहा है। राज्य में पहली बार स्नातक स्तर तक निःशुल्क शिक्षा प्रदान करने का प्रावधान किया गया है। उत्तर प्रदेश अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना 2022 के माध्यम से सभी जाति, वर्ग और धर्म की गरीब लड़कियां स्नातक तक शिक्षित हो सकेंगी। ताकि वह भी हर क्षेत्र में अपनी भागीदारी सुनिश्चित कर सकें। ये भी पढ़े: UP Police Pay Slip 2022: उत्तर प्रदेश पुलिस सैलरी स्लिप, Now Download Salary Slip [email protected]

उत्तर प्रदेश अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना 2022 का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य में बालिकाओं की शिक्षा को बढ़ावा देना है। जिससे अधिक से अधिक बालिकाएं शिक्षित होकर भविष्य के लिए आत्मनिर्भर एवं सशक्त बन सकें। क्योंकि कई लड़कियां ऐसी होती हैं जो शिक्षा प्राप्त करना चाहती हैं लेकिन परिवार की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण वे शिक्षा नहीं ले पाती हैं। ये भी पढ़े: विकलांग पेंशन योजना 2022 | Viklang Pension Yojana 2022 की लिस्ट में अपना नाम कैसे देखें? Apply Now Fast

प्रदेश में अब गरीब बालिकाएं अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना उत्तर प्रदेश 2022 के माध्यम से स्नातक स्तर तक निःशुल्क शिक्षा प्राप्त कर सकेंगी। जिससे राज्य में लड़कियों की दशा में सुधार होगा। UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana शुरू करने की मुख्यमंत्री की पहल बहुत ही सराहनीय है क्योंकि यह योजना गरीबी रेखा से नीचे रहने वाली लड़कियों को शिक्षा का अधिकार प्रदान कर रही है। ये भी पढ़े: Voter ID Apply Online 2022: State Wise Voter Card Registration & Login | Apply Now Fast

UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022
UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022

Highlights of उत्तर प्रदेश देवी अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना 2022

योजना का नाम उत्तर प्रदेश अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना
किसके द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा
संबंधित विभाग यूपी उच्च शिक्षा विभाग
लाभार्थी प्रदेश के गरीब परिवारों की बेटियां
उद्देश्य ग्रेजुएट स्तर तक गरीब बेटियों को निशुल्क शिक्षा प्रदान करना
निर्धारित बजट 21 करोड़ 12 लाख रुपए
साल 2022
आवेदन प्रक्रिया Online
अधिकारिक वेबसाइट https://www.upefa.com/upefaweb/

UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022 का लाभ देने की कार्यविधि शुरू हो गयी।

उच्च शिक्षा के लिए आगे आने वाली छात्राओं को इस योजना का लाभ देने का सिलसिला शुरू हो गया है। यूपी उच्च शिक्षा विभाग ने राज्य के सभी राज्य विश्वविद्यालयों और कॉलेजों से स्नातक प्रथम वर्ष में प्रवेश लेने वाली पात्र छात्राओं का विवरण मांगा है। इसके बाद उन्हें फीस लौटाने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। हालांकि, राज्य सरकार ने पहले ही गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाली छात्राओं के लिए ट्यूशन फीस माफ कर दी है।

लेकिन अब UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022 के जरिए पात्र छात्राओं को बिल्कुल मुफ्त शिक्षा प्रदान की जाएगी। इस योजना को शुरू करने का एकमात्र लक्ष्य उच्च शिक्षा में लड़कियों का हिस्सा बढ़ाना है। क्योंकि सरकारी आंकड़ों के मुताबिक उच्च शिक्षा में लड़कियों की हिस्सेदारी बहुत कम है।

Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022 के लाभ 

  • बोर्ड परीक्षा में अच्छे अंक लाने वाली गरीब छात्राओं को ₹2000 की आर्थिक सहायता दी जाएगी।
  • इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा गरीब पात्र बेटियों को स्नातक स्तर तक की मुफ्त शिक्षा प्रदान की जाएगी।
  • इसके अलावा स्कूल बैग, ड्रेस, किताबें और पढ़ने-लिखने का सामान भी उन्हें मुफ्त दिया जाएगा।
  • समाज कल्याण विभाग की छात्रवृत्ति से वंचित छात्राओं को भी इस योजना का लाभ दिया जायेगा।
  • Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana के तहत सभी धर्मों और जातियों की गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाली छात्राओं को फीस प्रतिपूर्ति की सुविधा दी जाएगी।
  • जिन छात्राओं को समाज कल्याण विभाग की ओर से फीस प्रतिपूर्ति नहीं मिलती है, उनकी फीस भी इस योजना के माध्यम से उनके खाते में वापस कर दी जाएगी।

Ahilyabai Nishulk Shiksha योजना 2022 के तहत दी जाने वाली सहायता

  • UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022 की शुरुआत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने राज्य की गरीबी रेखा से नीचे रहने वाली बेटियों के हित में की है।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार पात्र लड़कियों को स्नातक डिग्री प्राप्त करने तक मुफ्त शिक्षा प्रदान करेगी।
  • यानी सभी पात्र लड़कियों की फीस, ड्रेस, वर्दी, किताबें और अन्य सभी शैक्षणिक सामान आदि की शिक्षा का खर्च राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा
  • यह योजना राज्य में शिक्षा के स्तर को बढ़ाकर साक्षरता दर को बढ़ाएगी। जिससे समाज में लड़कियों के प्रति बनाई गई मानसिकता को बदला जा सकता है।
  • यूपी अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना 2022 के शुरू होने से अब गरीब परिवारों को अपनी बेटियों की पढ़ाई के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा।
  • इस योजना के तहत राज्य सरकार की ओर से 21 करोड़ 12 लाख रुपये का बजट निर्धारित किया गया है. इस सत्र से लाभार्थी बालिकाओं की शिक्षा शुल्क भुगतान की व्यवस्था की जा रही है।
  • इस योजना के माध्यम से छात्राओं की उच्च शिक्षा में भागीदारी बढ़ेगी। जिससे वह भी राज्य की प्रगति में अपना योगदान दे सकेगी।

उत्तर प्रदेश अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना के तहत पात्रता

  • उत्तर प्रदेश अहिल्याबाई निशुल्क शिक्षा योजना के तहत आवेदन करने के लिए केवल लड़कियां ही पात्र हैं।
  • आवेदन करने वाली लड़की का उत्तर प्रदेश की स्थायी निवासी होना अनिवार्य है।
  • इस योजना का लाभ केवल गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाली लड़कियां ही उठा सकती हैं।
  • आवेदक के पास एक बैंक खाता होना चाहिए जो आधार कार्ड से लिंक हो।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • शैक्षिक योग्यता का प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  •  बैंक खाता विवरण

UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022 के तहत आवेदन प्रक्रिया

  • सबसे पहले छात्रों को अपने स्कूल/विश्वविद्यालय/महाविद्यालय के प्रबंधकों से संपर्क करना होगा।
  • इसके बाद प्रबंधक द्वारा योजना के तहत छात्र का पंजीयन किया जाएगा। पंजीकरण की समस्त प्रक्रिया विद्यालय/विश्वविद्यालय/महाविद्यालय के प्रबंधकों द्वारा की जायेगी।
  • छात्रा का नाम दर्ज कर उसकी सारी जानकारी उच्च शिक्षा विभाग को भिजवाई जाएगी।
  • इसके बाद उच्च शिक्षा विभाग द्वारा सभी विवरणों की जांच कर लाभान्वित होने वाली छात्राओं के नामों की सूची तैयार की जाएगी।
  • UP Ahilyabai Nishulk Shiksha Yojana 2022 के तहत जिन लड़कियों का नाम इस सूची में शामिल होगा, उन्हें ही मुफ्त शिक्षा दी जाएगी।

Important Links

Apply Via College/School
Join Telegram Click HereKhud Kamaao Ghar Chalao Yojana 2022

उत्तर प्रदेश देवी अहिल्या बाई निशुल्क शिक्षा योजना से जुड़े प्रश्न और उनके उत्तर 

उत्तर प्रदेश देवी अहिल्या बाई निशुल्क शिक्षा योजना क्या है ?

यह योजना उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार द्वारा शुरू की गई है। इसके तहत छात्राओं को ग्रेजुएशन तक की शिक्षा मुफ्त दी जाएगी।

सरकार ने इस योजना के लिए कितना बजट बनाया है ?

इस योजना के लिए सरकार ने 21 करोड़ रुपये का बजट प्रावधान किया है।

कौन सा विभाग इस योजना के संचालन के लिए जिम्मेदार है?

उत्तर प्रदेश के उच्च शिक्षा विभाग को इस योजना के संचालन और पर्यवेक्षण की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

क्या उत्तर प्रदेश देवी अहिल्याबाई नि:शुल्क शिक्षा योजना के लिए अन्य राज्यों की लड़कियां भी आवेदन कर सकती हैं?

नहीं, केवल यूपी यानि उत्तर प्रदेश में रहने वाली छात्राएं ही इस योजना के तहत आवेदन कर सकती हैं। अन्य राज्यों में रहने वाली लड़कियों को इस योजना का लाभ नहीं मिल सकता है।

क्या योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी छात्र का बैंक खाता होना जरूरी है ?

हां, इस योजना के तहत आवेदन करने वाली छात्रा के पास अपना बैंक खाता होना जरूरी है। बैंक में खाता खुलवाने के बाद ही वह आवेदन कर सकेगी।

क्या बीच में ड्राप आउट होने वाली छात्राएं भी इस योजना की लाभार्थी होंगी ?

नहीं, पढ़ाई बीच में ही छोड़ देने वाली लड़कियों को इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

Leave a Comment