अंत्योदय अन्न योजना 2022 क्या हैं ? Antyodaya Anna Yojana 2022 ऑनलाइन आवेदन, पात्रता जानकारी – Now Apply Online Fast

Antyodaya Anna Yojana 2022 : नमस्कार दोस्तों , स्वागत हैं आज आपका अपना हिंदी ब्लॉग Pmallyojana.com में | आज मैं इस आर्टिकल के माध्यम से बात करूँगा Antyodaya Anna Yojana 2022 के बारे में। इस योजना को केंद्र सरकार ने देश के गरीब नागरिको के लिए शुरू किया है । जैसा की आप जानते है की हमारे देश में आज भी कई ऐसे परिवार भी है जिनको भरपेट खाना तक नसीब नहीं होता है, तो ऐसे परिवार भूखे न रहे इसीलिए केंद्र सरकार ने इस अंत्योदय अन्न योजना की शुरुआत की हैं

Antyodaya Anna योजना 2022 के अंतर्गत एक राशन कार्ड दिया जाता हैं जिसके अंतर्गत देश के गरीब परिवार को हर महीने सब्सिडी के तौर पर 35 किलो राशन (जिसमें 20 किलो गेहूं तथा 15 किलो चावल शामिल है) वितरित किया जाता है। यह कार्ड देश के उन नागरिको को प्रदान किया जाते है जो आर्थिक रूप से बहुत गरीब होते है, और जिनके पास कमाई का कोई साधन नहीं होता हैं ।

अंत्योदय अन्न योजना की शुरुआत कब की गयी ?

केंद्र सरकार के द्वारा 25 दिसंबर 2000 को खाद्य आपूर्ति मंत्रालय के तहत योजना की शुरुआत की गयी है। Antyodaya Anna Yojana का लाभ गरीब परिवारों के साथ साथ विकलांग जनो को भी प्रदान किया जायेगा।

Antyodaya Anna Yojana 2022
Antyodaya Anna Yojana 2022

अंत्योदय अन्‍न योजना क्या है ?

अंत्योदय अन्न योजना एक ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत देश के गरीब परिवार को हर महीने सब्सिडी के तौर पर 35 किलो राशन (जिसमें 20 किलो गेहूं तथा 15 किलो चावल शामिल है) वितरित किया जाता है। जिसमें गेहूं 2 रुपये प्रति किलो और चावल 3 रुपये प्रति किलो की दर से उपलब्ध कराया जाता हैं। इस योजना के तहत गरीब परिवार और दिव्यांगजन आसानी से अपने परिवार का भरण-पोषण कर सकते हैं अंत्योदय अन्न योजना राशन कार्ड राज्य सरकार द्वारा निर्धारित किया जाएगा, और लाभार्थियों को इस राशन कार्ड में शामिल किया जाएगा।

Highlights of Antyodaya Anna Yojana

योजना का नाम अन्‍त्‍योदय अन्‍न योजना
आरम्भ की गई केंद्र सरकार द्वारा
विभाग खाद्य आपूर्ति और उपभोक्ता मंत्रालय
लाभार्थी देश के नागरिक
पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन
लाभ गरीबो के खाद्य सामग्री की उपलब्धता सुनिश्चित करना
उद्देश्य खाद्य पदार्थों को सब्सिडी के रूप में उपलब्ध करना
आधिकारिक वेबसाइट निचे दिया गया है states के अनुसार 

अंत्योदय अन्न योजना (AAY) का नया अपडेट

अंत्योदय अन्न योजना महोत्सव उत्तर प्रदेश राज्य में शुरू किया गया था। इस अंत्योदय अन्न योजना 2022 योजना के तहत राज्य के सभी उम्मीदवार नागरिकों को मुफ्त राशन प्रदान किया जाता है। इस योजना के तहत प्रत्येक लाभार्थी को हर महीने 35 किलो राशन वितरित किया जाता है। पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए मध्य प्रदेश राज्य के प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना प्राप्तकर्ताओं से बातचीत की और मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज चौहान भी इस शो में शामिल हुए.

मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने कहा कि “ हमारे देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी 1 करोड़ 15 लाख परिवारों के 4 करोड़ 90 लाख लोगों को बस नाममात्र शुल्क ( 2 रूपये प्रति किलो गेहू और 3 रूपये प्रति किलो चावल ) के साथ 1 करोड़ 15 लाख लोगों को राशन उपलब्ध करवा रहे हैं।

‘अंत्योदय अन्न योजना’ (Antyodaya Anna योजना 2022- AAY):

  • ‘अंत्योदय अन्न योजना’ दिसंबर 2000 में शुरू किया गया था।
  • इस योजना का उद्देश्य ‘गरीबी रेखा से नीचे रह रहे लोगो के खाने की कमी को पूरा करना था।
  • शुरुआत में इस योजना के तहत लाभार्थी परिवार को 25 किलो प्रतिमाह राशन मिलने का प्रावधान था, जिसे अप्रैल 2002 में बढ़ाकर 35 किग्रा कर दिया गया था।

अंत्योदय अन्न योजना का लक्ष्य 

जैसा कि आप जानते हैं कि देश में बहुत से लोग आर्थिक तंगी के कारण राशन नहीं खरीद पा रहे हैं। सरकार ने उनके लिए अंत्योदय कार्ड जारी किए हैं और देश के विकलांग लोगों को भी अपनी वित्तीय जरूरतों को पूरा करना बहुत मुश्किल लगता है। इन सभी समस्याओं को देखते हुए केंद्र सरकार ने इस योजना के तहत Antyodaya Anna Yojana शुरू की है।

विकलांगों को किफायती दर पर भोजन उपलब्ध कराना। इस योजना के तहत प्रति परिवार विकलांगों को हर महीने 35 किलो अनाज दिया जाएगा। इस योजना के जरिये सभी राज्यों को यह भी सुनिश्चित करने को कहा गया है कि कोई भी गरीब या विकलांग व्यक्ति इस योजना से वंचित न रह जाये।

Antyodaya Anna Yojana 2022 से क्या लाभ मिलेंगे ?

  • इस श्रेणी की आबादी के लिए टीपीडीएस को अधिक केंद्रित और लक्षित बनाने के लिए, “अंत्योदय अन्न योजना” (एएवाई) दिसंबर 2000 में गरीब परिवारों के एक करोड़ गरीबों के लिए शुरू की गई थी।
  • इससे गरीब वर्ग के लोग तथा विकलांगजनो को काफी रहत मिलेगी ।
  • लाभार्थियों को काफी कम कीमत यानि न के बराबर कीमत पर खाद्य सामग्री उपलब्ध कराई जाएगी।
  • इस योजना का लाभ देश के उन तमाम विकलांगजनो को भी मिलेगा जिनकी आर्थिक स्थिति बहुत दयनीय है।
  • अंत्योदय अन्न योजना के माध्यम से लाभार्थियों को 35 किलो राशन लेने की सुविधा प्रदान की गई है।
  • गेहूं 2 रुपये प्रति किलो और चावल 3 रुपये प्रति किलो की दर से। लाभार्थी अपने अंत्योदय राशन कार्ड के तहत हर महीने खाद्यान्न प्राप्त कर सकता है।
  • 2.50 करोड़ गरीब परिवारों को AAY Yojana के तहत कवर किया जाएगा।
  • अंत्योदय अन्न योजना का लाभ गांव के गरीब लोग तथा शहर के गरीब लोग, साथ ही दोनों क्षेत्रों के विकलांग लोगों को मिलेगा।
  • “अंत्योदय राशन कार्ड” – मान्यता प्राप्त करने के लिए चयनित आवेदक के परिवार को अद्वितीय कोटा कार्ड प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से देश के सभी गरीब तथा विकलांग वर्ग के लोग अपने परिवारों को उचित मूल्य पर खाद्य सामग्री उपलब्ध करवा सकेंगे।

ये भी पढ़ें

किन परिवारों को इस योजना में शामिल करना हैं ?

इस योजना के तहत परिवारों की पहचान करने के लिए कुछ मापदंड हैं, जो हमने नीचे दिए हैं, उन्हें विस्तार से पढ़ें।

  • भूमिहीन खेतिहर मजदूर, सीमांत किसान, ग्रामीण शिल्पकार / कारीगर जैसे कुम्हार, चमड़ा कारीगर, बुनकर, लोहार, बढ़ई, झुग्गी-झोपड़ी में रहने वाले और अनौपचारिक क्षेत्र में दैनिक आधार पर काम करने वाले व्यक्ति जैसे दरबान, कुली, रिक्शा चालक, सड़क विक्रेता, फल विक्रेता, ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में सपेरे, कूड़ा बीनने वाले, मोची, बेसहारा और इस तरह की अन्य श्रेणियों के लोग शामिल हैं।
  • इसमें विधवाओं, बीमार व्यक्तियों, विकलांगों तथा 60 वर्ष और उससे अधिक आयु के व्यक्तियों को भी शामिल किया जायेगा जिनके पास जीवन यापन के लिए कोई सामाजिक सहायता या सुनिश्चित साधन नहीं है।
  • विधवा या बीमार व्यक्ति या विकलांग व्यक्ति या 60 वर्ष से अधिक आयु का व्यक्ति जिसके पास निर्वाह या सामाजिक सहायता का सुनिश्चित साधन नहीं है।
  • अंत्योदय परिवारों की पहचान करना और ऐसे परिवारों को अद्वितीय राशन कार्ड जारी करना संबंधित राज्य सरकारों की जिम्मेदारी है। इस योजना के तहत आवंटन के लिए खाद्यान्न राज्यों/संघ राज्य क्षेत्रों को चिन्हित अंत्योदय परिवारों को विशिष्ट AAY राशन कार्ड जारी करने के आधार पर जारी किया जाता है।
अंत्योदय अन्न योजना के तहत शहरी क्षेत्र के लोग 
  • वैसे परिवार जिनकी वार्षिक आय ₹15000 हो।
  • फुटपाथ पर फल और फूल बेचने वाले
  • दैनिक वेतन भोगी जैसे की रिक्शा चालक
  • झुग्गी-झोपड़ियों में रहने वाले लोग
  • निर्माण श्रमिक
  • घरेलू नौकर
  • स्नेक चार्मर
  • विधवा या विकलांग
  • कॉबलर
  • रैग पिकर
अंत्योदय अन्न योजना के तहत  ग्रामीण क्षेत्र के लोग 
  • छोटे और सीमांत किसान
  • शारीरिक रूप से विकलांग व्यक्ति
  • वृद्धावस्था पेंशन धारी
  • वैसे परिवार जिनकी वार्षिक आय ₹15000 हो।
  • भूमिहीन खेतिहर मजदूर
  • गांव के कारीगर या शिल्पकार जैसे कुमार, बुनकर, लोहार, बढ़ाई, झुग्गीवासी इत्यादि।
  • निरीक्षक विधवा

Antyodaya Anna Yojana 2022 के दस्तावेज़ मापदंड 

  • आवेदन करने वाला गरीबी रेखा से नीचे का होना चाहिए।
  • आवेदक  नामित प्राधिकारी द्वारा जारी अन्त्योदय राशन कार्ड के लिए चयनित होना चाहिए।
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान प्रमाण पत्र
  • संबंधित पटवारी द्वारा जारी किया गया आय प्रमाण पत्र
  • आवेदक के पास पहले से कोई राशन कार्ड नहीं है इस बायत का हलफनामा चाहिए होता है।
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

अन्‍त्‍योदय अन्‍न योजना आवेदन प्रक्रिया

अंत्योदय अन्न योजना के तहत आवेदन करने के लिए, आपको नीचे दी गई चरण-दर-चरण प्रक्रिया का पालन करना होगा।

  • सबसे पहले आपको खाद्य एवं आपूर्ति विभाग में जाना होगा। इसके बाद आपको वहां से अंत्योदय अन्न योजना के आवेदन के लिए आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा।
  • अब इस आवेदन पत्र में पूछी गई सभी जानकारी स्पष्ट और साफ शब्दों में भरें जैसे आपका नाम, पता, आय, मोबाइल नंबर आदि।
  • ये सभी जानकारी भरने के बाद आपको आवेदन पत्र के साथ मांगे गए सभी दस्तावेजों को अटैच करना हैं।
  • और अब इस Application Form को संबंधित विभाग में जाकर जमा करवा दें।
  • आपके आवेदन पत्र की विभागीय अधिकारी द्वारा जांच की जाएगी और निर्णय लिया जाएगा कि वह आपको इस योजना का लाभ प्रदान करने के योग्य मानता है या नहीं।
  • इस योजना के तहत आप आवेदन करने के बाद एक बार अपने आवेदन की स्थिति एवं लाभार्थी सूची में अपना नाम देख सकते हैं।

Antyodaya Anna Yojana State Wise List

आंध्र प्रदेश यहाँ क्लिक करे
बिहार यहाँ क्लिक करेkosi study
छत्तीसगढ़ यहाँ क्लिक करे
दिल्ली यहाँ क्लिक करे
गुजरात यहाँ क्लिक करे
हरियाणा यहाँ क्लिक करे
हिमाचल प्रदेश यहाँ क्लिक करे
जम्मू कश्मीर यहाँ क्लिक करे
झारखण्ड यहाँ क्लिक करे
कर्नाटक यहाँ क्लिक करे
केरला यहाँ क्लिक करे
मध्य प्रदेश यहाँ क्लिक करे
महाराष्ट्र यहाँ क्लिक करे
ओडिशा यहाँ क्लिक करे
पंजाब यहाँ क्लिक करे
राजस्थान यहाँ क्लिक करे
तमिलनाडु यहाँ क्लिक करे
उत्तर प्रदेश यहाँ क्लिक करेkosi study
उत्तराखंड यहाँ क्लिक करे
वेस्ट बंगाल यहाँ क्लिक करेkosi study

जैसा कि इस लेख में हम आपको अंत्योदय अन्न योजना अंत्योदय अन्न योजना ऑनलाइन आवेदन, पात्रता, स्थिति और लाभार्थी सूची से संबंधित जानकारी प्रदान करते हैं। अगर आपको इस योजना से जुड़ी कोई अन्य जानकारी चाहिए तो आप नीचे कमेंट करके देख सकते हैं। हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपके काम आएगी।

दोस्तों अगर आप केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा जो भी योजनाएं शुरू की गयी है चाहे वो नयी योजना हो या फिर पुरानी, जानना चाहते है तो आप हमारी इस वेबसाइट pmallyojana.com को फॉलो करना ना भूलें ।

और अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और share करना भी न भूलें।

अंत्योदय अन्न योजना से जुड़े कुछ प्रश्न और उत्तर

AAY का पूर्ण रूप क्या है?

AAY का पूर्ण रूप (Full Form) अंत्योदय अन्न योजना है।

AAY योजना क्या है? तथा देश के किन लोगो को इसका लाभ मिलेगा ?

AAY योजना के माध्यम से अनुदान के रूप में राशन का वितरण किया जाता है। और इस योजना का लाभ देश के गरीब और विकलांग लोगों को प्रदान किया जाता है।

क्या ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्र के लोगों  को AAY का लाभ मिलेगा ?

हाँ, ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों के गरीब तथा विकलांग लोगो को इस योजना से लाभ मिलेगा और उन्हें हर महीने नगण्य कीमत पर परिवार के भरण पोषण हेतु राशन प्रदान किया जाएगा।

AAY से भोजन का अनुरोध कैसे करें?

अगर आप AAY के लिए जरुरी मापदंडो पर खरे उतारते है तो आप अपने क्षेत्र के खाद्य आपूर्ति विभाग के निकटतम विभाग में या अपने राज्य में आपूर्ति विभाग की Official Website के जरिये अंत्योदय अन्न योजना के  लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

अंत्योदय राशन कार्ड के अंतर्गत लोगों को प्रत्येक महीने कितना किलो राशन वितरित किया जाएगा?

अंत्योदय राशन कार्ड के अनुसार प्रत्येक माह व्यक्ति को 35 किलो राशन वितरित किया जाएगा, जिसमें नागरिक को 20 किलो गेहूं और 15 किलो चावल लेने का लाभ मिलेगा।

अंत्योदय अन्न योजना के तहत लाभार्थियों को क्या-क्या सुविधाएं प्रदान की गई हैं

इस योजना के तहत लाभार्थियों को काफी काम कीमत पर राशन की सेवा प्रदान की गई है।

किस देश के नागरिक इस योजना के लिए पात्र होंगे?

जो लोग आर्थिक रूप से गरीब है या फिर वो विकलांग है तो वो लोग इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है । इसमें ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों के लोग आवेदन कर सकते है।

अंत्योदय राशन कार्ड के जरिये राशन को लोगों तक कैसे पहुंचाया जायेगा ? 

अंत्योदय राशन कार्ड के माध्यम से लाभार्थियों को काफी काम बिलकुल न के बराबर मूल्य पर राशन वितरित किया जाएगा, जिसमें 20 किलो गेहूं तथा 15 किलो चावल शामिल है। जहां गेहूं की कीमत 2 रुपये प्रति किलो और चावल 3 रुपये प्रति किलो

जैसे – गुलाबी, पीला, हरा, सफेद आदि। अलग – अलग रंग के राशन कार्ड धारकों को लाभ भी अलग – अलग ही मिलता है। लेकिन अधिकांश लोगों को नहीं पता कि किस रंग के राशन कार्ड में क्या – क्या मिलता है। इनके फायदें क्या होते है

अंत्योदय शब्द आर्थिक रूप से कमजोर और पिछड़े वर्गों के उत्थान या विकास की क्रिया या भावना है।

Leave a Comment