राजस्थान महिला निधि योजना 2022 | Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022 Apply Now Fast in Simple Steps

राजस्थान महिला निधि योजना 2022 ( Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022 ): नमस्कार दोस्तों , स्वागत हैं आज आपका अपना हिंदी ब्लॉग Pmallyojana.com में। आज मैं इस आर्टिकल के माध्यम से बात करूँगा Delhi Electricity Bill Subsidy Scheme 2022 के बारे में। ये भी पढ़े: बिहार छात्रावास अनुदान योजना 2022 | Bihar Chhatravas Anudan Yojana 2022 | बिहार मुफ्त छात्रावास योजना Apply Now Fast

वर्तमान में राजस्थान सरकार अपने राज्य में महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाओं के माध्यम से महिला सशक्तिकरण प्रदान कर रही है, प्रशिक्षण से लेकर समाज में सम्मान प्रदान करने से लेकर उद्योग करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान कर रही है। ये भी पढ़े: प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना 2022 | Pradhan Mantri Solar Panel Yojana 2022 Apply Now Fast
आज हम आपको इस लेख के माध्यम से 26 अगस्त 2022 महिला समानता दिवस के अवसर पर आपके राज्य की महिलाओं को उद्योगों से जोड़ने के लिए राजस्थान सरकार द्वारा शुरू की गई एक नई योजना के बारे में बताने जा रहे हैं। इस योजना का नाम राजस्थान महिला निधि योजना 2022 है। मुख्यमंत्री ने Mahila Nidhi Yojana का शुभारंभ करते हुए इसे महिलाओं की सामाजिक और आर्थिक प्रगति के लिए मील का पत्थर बताया है। ये भी पढ़े: Nipun Bharat Mission 2022: निपुण भारत मिशन 2022 Know Fast Now – क्या हैं इसका लक्ष्य एवं कार्य प्रणाली ?
महिलाओं और पुरुषों के लिए मोदी सरकार द्वारा हर तरह की योजनाएं चलाई जा रही हैं। इसके अलावा कई राज्य सरकारें भी महिलाओं के लिए कई तरह की योजनाएं चला रही हैं। इसी तरह अब राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने महिला सशक्तिकरण के लिए ‘Mahila Nidhi Yojana‘ की शुरुआत की है। इस योजना को शुरू करने का सरकार का उद्देश्य महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना है। महिलाएं इस योजना के तहत मिलने वाले लोन से अपना व्यवसाय शुरू कर सकती हैं। ये भी पढ़े: ESIC ऑनलाइन भुगतान 2022 | ESIC Online Payment 2022: e-Challan Payment Now Fast, Receipt Download, Check Status
Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022
Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022

Table of Contents

Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार 26 अगस्त 2022 को राजस्थान महिला निधि योजना 2022 की शुरुआत की है। इस योजना को स्थापित करने की घोषणा राजस्थान ग्रामीण आजीविका विकास परिषद के माध्यम से बजट 2022-23 के दौरान की गई थी। तेलंगाना के बाद राजस्थान देश का दूसरा राज्य है जहां महिला निधि की स्थापना की गई है। इस योजना के माध्यम से स्वयं सहायता समूहों को उद्योग करने और उद्योग को आगे बढ़ाने के लिए ऋण दिया जाएगा। इस योजना के तहत आवेदन करने वाले सदस्य के समूह के बैंक खाते में ₹ 40000 तक का ऋण 48 घंटे के भीतर और ₹ 40,000 से अधिक का ऋण 15 दिनों की समय सीमा के भीतर जमा किया जाएगा।

प्रदेश के 33 जिलों में फिलहाल 2 लाख 70 हजार स्वयं सहायता समूह बनाए गए हैं। जिसमें 30 लाख परिवारों ने भाग लिया है। सत्र 2022-23 में 50,000 स्वयं सहायता समूह बनाने का प्रस्ताव है जिसमें 6 लाख परिवारों को जोड़ा जाएगा।
यानी ‘Mahila Nidhi Yojana‘ का लाभ राज्य के 36 लाख परिवारों को चरणबद्ध तरीके से उनकी जरूरतों के लिए उद्योग लगाने के लिए मुहैया कराया जाएगा। ये भी पढ़े: मुख्यमंत्री सुकन्या योजना 2022 | Mukhyamantri Sukanya Yojana Jharkhand 2022 Apply Now Fast

कारोबार शुरू कर सकती हैं मह‍िलाएं

राज्य सरकार की ओर से शुरू की गई इस योजना के तहत महिलाओं को बिजनेस करने के लिए कर्ज दिया जाएगा। महिलाएं लोन के पैसे से अपना बिजनेस शुरू कर सकती हैं। इसके बाद राजस्थान की महिलाओं को आर्थिक मदद के लिए किसी पर निर्भर नहीं होना पड़ेगा। इस योजना के तहत महिला को आवेदन करने के 48 घंटे के भीतर कर्ज मिल जाएगा।

48 घंटे में लोन म‍िलने का प्रावधान

महिला निधि योजना में 48 घंटे में 40 हजार रुपये तक का ऋण प्राप्त करने का प्रावधान है। अगर आपने इससे ज्यादा रकम के लिए अप्लाई किया है तो लोन की रकम अकाउंट में आने में 15 दिन का वक्त लगेगा। आपको बता दें कि राजस्थान के 33 जिलों में 2.70 लाख स्वयं सहायता समूहों का गठन किया गया है। इसमें अब तक 30 लाख परिवार जुड़ चुके हैं। इसके तहत राज्य के कुल 36 लाख परिवारों को लाभ मिलेगा।

बजट में क‍िया था ऐलान

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 2022-23 के बजट में महिला निधि योजना की घोषणा की थी। तेलंगाना के बाद राजस्थान दूसरा राज्य है, जहां महिला निधि योजना की शुरुआत की गई। उन्होंने कहा कि राज्य में महिला स्वयं सहायता समूहों को मजबूत करने के लिए यह योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत गरीब और संपत्तिहीन महिलाओं को भी आसानी से ऋण मिल सकेगा।

लोन लेने के ल‍िए जरूरी दस्‍तावेज

इस योजना का उद्देश्य महिलाओं को सशक्त बनाना और महिलाओं की आय बढ़ाना है। राजस्थान में ग्रामीण आजीविका विकास परिषद की ओर से इस योजना की स्थापना की गई। योजना का लाभ लेने के लिए किसी भी महिला को आधार कार्ड, डोमिसाइल सर्टिफिकेट, इनकम सर्टिफिकेट और बैंक अकाउंट की जानकारी देनी होगी। सरकार जल्द ही इस योजना से संबंधित आवेदन प्रक्रिया का भी अनावरण करेगी।

Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022
Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022

Highlights of राजस्थान महिला निधि योजना 2022

योजना का नाम Rajasthan Mahila Nidhi Yojana
आरंभ की गई मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा
घोषित की गई थी बजट 2022-23 में राजस्थान ग्रामीण आजीविका विकास परिषद के माध्यम से
लाभार्थी स्वयं सहायता समूह से जुड़े परिवार
उद्देश्य उद्योग के लिए ऋण प्रदान करना
लाभार्थी परिवार लगभग 36 लाख
साल 2022

Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022 का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य राजस्थान की महिला स्वयं सहायता समूहों को उद्यमिता और उनके व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए आसान ऋण प्रदान करना है। इस योजना से राज्य में महिला सशक्तीकरण को बढ़ावा मिलेगा और राज्य में रोजगार के अवसर पैदा होंगे। राजस्थान महिला निधि योजना 2022 के माध्यम से प्रदेश की महिला स्वयं सहायता समूहों को मजबूत किया जाएगा, उन्हें बैंकों से आसान कर्ज दिया जाएगा, गरीब, संपत्तिहीन और सीमांत महिलाओं की आय बढ़ेगी। जिससे समाज में महिलाओं का आर्थिक विकास होगा।

महिला समानता दिवस पर आयोजित राज्य स्तरीय समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि महिलाओं की स्थिति में सुधार के लिए सिर्फ कानून ही काफी नहीं है, उनके साथ समान व्यवहार करने के लिए सामाजिक सोच में बदलाव की जरूरत है। इसी सोच को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022 की शुरुआत की गई है।

Rajasthan Mahila Nidhi Yojana 2022 के लाभ और विशेषताएं

  • राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी द्वारा 26 अगस्त 2022 को महिला समानता दिवस पर आयोजित राज्य स्तरीय समारोह को संबोधित करते हुए ‘राजस्थान महिला निधि योजना 2022‘ का शुभारम्भ किया गया है।
  • राज्य में बजट 2022-23 के दौरान राजस्थान ग्रामीण आजीविका विकास परिषद के माध्यम से इस योजना को स्थापित करने की घोषणा की गई।
  • इस योजना के तहत स्वयं सहायता समूहों को उद्यमिता के लिए और अपने व्यवसाय के विस्तार के लिए आसान ऋण उपलब्ध कराया जाएगा।
  • आवेदित सदस्य के समूह के बैंक खाते में ₹ 40000 तक का ऋण 48 घंटे के भीतर तथा ₹ 40000 से अधिक के ऋण 15 दिनों की समय सीमा के भीतर जमा किया जाएगा।
  • राजस्थान के 33 जिलों में 270000 स्वयं सहायता समूह बनाए गए हैं जिसमें 30 लाख परिवार शामिल हैं।
  • वित्तीय वर्ष 2022-23 में 50,000 और नए स्वयं सहायता समूह बनाए जाएंगे, जिसमें 6 लाख परिवार जुड़ेंगे।
  • यानी राजस्थान के कुल 36 लाख परिवारों को इस योजना के माध्यम से चरणबद्ध तरीके से उद्यमिता के लिए ऋण प्रदान किया जाएगा।
  • मुख्यमंत्री का कहना है कि यह योजना महिलाओं की आर्थिक प्रगति में मील का पत्थर साबित होगी।
  • तेलंगाना के बाद राजस्थान देश का दूसरा ऐसा राज्य है जहां महिला निधि की स्थापना हुई है।
  • Mahila Nidhi Yojana Rajasthan 2022 के माध्यम से राज्य की महिलाएं आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बन सकेंगी, ताकि वे राज्य के सर्वांगीण विकास में भाग ले सकें।

महिला निधि योजना 2022 के तहत पात्रता एवं आवश्यक दस्तावेज

  • राजस्थान की वो महिलायें जो  महिला स्वयं सहायता समूह से जुडी है, इस योजना के तहत आवेदन करने के पात्र हैं।
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

राजस्थान महिला निधि योजना 2022 के तहत आवेदन कैसे करें?

राज्य के इच्छुक स्वयं सहायता समूह जो राजस्थान महिला निधि योजना 2022 के माध्यम से ऋण प्राप्त करना चाहते हैं, उन्हें अभी और इंतजार करना होगा। क्योंकि सरकार ने अभी यह योजना शुरू की है। जल्द ही सरकार इस योजना के तहत आवेदन से संबंधित जानकारी भी सार्वजनिक करेगी। जब इस योजना के तहत आवेदन करने की जानकारी सरकार द्वारा सार्वजनिक की जाएगी, तो हम इस लेख के माध्यम से आपके साथ साझा करेंगे। तो आपसे अनुरोध है कि हमारे इस आर्टिकल से जुड़े रहें।

Important Links

Registration Update Soon
Official  Website Update Soon
Join Telegram Click HereDelhi Electricity Bill Subsidy Scheme

राजस्थान महिला निधि योजना के तहत पूछे जाने वाले प्रश्न और उनके उत्तर 

क्या है राजस्थान महिला निधि योजना?

राजस्थान महिला निधि योजना के तहत राजस्थान राज्य में कार्यरत महिला स्वयं सहायता समूहों को उद्यमिता या उद्योग के विस्तार हेतु ऋण देने की सुविधा प्रदान की गयी है।

राजस्थान महिला निधि योजना की शुरुआत कब और किसके द्वारा की गई?

महिला समानता दिवस के शुभ अवसर पर 26 अगस्त 2022 को राजस्थान महिला निधि योजना की शुरुआत की गई थी।

महिला निधि योजना के अंतर्गत कितना ऋण लिया जा सकता है?

इस योजना के तहत 40,000/- या इससे अधिक का लाभ उठाया जा सकता है।

राजस्थान महिला निधि योजना में आवेदन कैसे करें ?

अब आवेदकों को इस योजना में आवेदन करने के लिए कुछ समय इंतजार करना होगा। इस योजना के तहत जल्द ही आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

किन महिलाओं को मिलेगा महिला निधि योजना का लाभ?

महिला निधि योजना के तहत ऐसी महिलाओं को ऋण उपलब्ध कराया जाएगा जिन्हें व्यवसाय शुरू करने के लिए धन की आवश्यकता होगी।

Leave a Comment